कराची आंतरराष्ट्रीय विमानतळ

विकिपीडिया, मुक्‍त ज्ञानकोशातून
Jinnah International Airport
Quaid-e-Azam International Airport
काۂद आज़म बेन एलअक़वामी होअगाह
220px
Karachi Jinnah Airport.jpg
आहसंवि: KHIआप्रविको: OPKC
माहिती
विमानतळ प्रकार Public
मालक/प्रचालक Civil Aviation Authority of Pakistan
कोण्या शहरास सेवा Karachi
स्थळ Sindh, Pakistan
हब Airblue
Pakistan International Airlines
Shaheen Air
उन्नतन(एलिव्हेशन)  सरासरी समुद्र- सपाटीच्या वर 100 फू / 30 मी
गुणक (भौगोलिक) 24°54′24″N 067°09′39″E / 24.90667, 67.16083
संकेतस्थळ www.karachiairport.com.pk
धावपट्टी
दिशा लांबी पृष्ठभाग
मी फू
07R/25L 3,400 11,155 Concrete
07L/25R 3,200 10,500 Concrete


Wiki letter w.svg
कृपया स्वत:च्या शब्दात परिच्छेद लेखन करून या लेखाचा / विभागाचा विस्तार करण्यास मदत करा.
अधिक माहितीसाठी या लेखाचे चर्चा पान, विस्तार कसा करावा? किंवा इतर विस्तार विनंत्या पाहा.
Translation arrow-indic.svg
ह्या लेखाचा/विभागाचा इंग्रजी किंवा अमराठी भाषेतून मराठी भाषेत भाषांतर करावयाचे बाकी आहे. अनुवाद करण्यास आपलाही सहयोग हवा आहे. ऑनलाईन शब्दकोश आणि इतर सहाय्या करिता भाषांतर प्रकल्पास भेट द्या.



जनाह बेन एलअक़वामी होअगाह या जनाह बेन एलअक़वामी हवाई अड्डा (Jinnah International Airport) (साबिका “क़ाइद आज़म बेन एलअक़वामी हवाई अड्डा“) पाकिस्तान का सब से बड़ा बेन एलअक़वामी ओ- कौमी हवाई अड्डा है। ये सूबा सिंध के दारुलहकूमत कराची में वाक़िअ है। मुक़ामी बाशनदों में ये जनाह टर्मीनल के नाम से मशहूर है। इस का नाम क़ाइद आज़म मुहम्मद अली जनाह पर रखा गया है।

तारीख़[संपादन]

जनाह टर्मीनल पर पी आई ए का जंबो तय्यारा

1940ए की दुहाई में कराची हवाई अड्डा की मौजूदा जगह पर काला छपरा होता था। ये स्याह रंग का एक बड़ा हैंगर था जिसे बर्तानिया के आर 101 एिरशिप के लिए तैयार क्या गया था। दुनिया में आर 101 एिरशिप के लिए सिर्फ तीन हैंगर तैयार किऐ गए जिस में से एक कराची में तैयार हुआ लेकिन बदकिस्मती से आर 101 तय्यारा कराची नहीं आसका और फ़्रांस में अपने सफ़र के दौरान तबाह होगया।

1960ए की दुहाई में सदर अय्यूब ख़ान ने उसे ख़त्म करने का हुक्म दिया और पाकिस्तान के फ़िज़ाई विरसे का एक अहम बाब बंद होगया।

1960ए से 1980ए की दुहाई तक कराची ख़ित्ते का मसरूफ तरीन हवाई अड्डा था जहां ब्रिटिश एिर वीज़, लफ़थानसा, इंटर फलग, टियरओ-म, अलातालिया, जय ए टी, योगओ-सुला वीह एिर लाइन्ज़, अरो फ्लोट, फ़िलपाइन एिरलाइन्ज़, नाइजीरिया एिरलाइन्ज़, एथोपयन् एिरलाइन्ज़, एजपट एिर, ईस्ट अफ़रीक़न एिर वीज़, कीनीया एिरवीज़, यमनीअ, ईरान एिर, एिर फ़्रांस, किनटास, के ऐल एम, पेन एम, एम ए ए, सोिस एिर, एस ए एस और कुवैत एिर वीज़ समेत दुनिया के मारूफ़ तरीन फ़िज़ाई इदारों के जहाज़ ख़िदमात मुहय्या करते थे। 1990ए की दुहाई में मुतहदा अरब इमारात के शहर दबिी के हवाई अड्डे के आलमी उफ़क़ पर नमूदार होने के बाइस कई मारूफ़ फ़िज़ाई इदारों ने कराची के लिए ख़िदमात फ़राहम करना बंद करदीं।

गज़शतह चंद सालों से पाकिस्तान में मज़बूत मईशत के बाइस कई फ़िज़ाई इदारे एक मरत्तबा फिर कराची लौट रहे हैं जिन में कीथे पैसिफिक और संगअपोर एिरलाइन्ज़ काबुल ज़िक्र हैं।

जनाह इंटरनैशनल कम्पलैक्स[संपादन]

जनाह टर्मीनल

जनाह टर्मीनल के 16 दरवाज़े हैं और ये बैक वक्त 30 तय्यारों को ख़िदमात मुहय्या करसकता है। हर साल 60 लाख मुसाफ़िर इस टर्मीनल का इस्तेमाल करते हैं जबकि हवाई अड्डे पर सालाना एक करोड़ 20 लाख मुसाफ़िरों को ख़िदमात फ़राहम करने की गुंजाइश है।

जनाह बेन एलअक़वामी हवाई अड्डा क़याम पाकिस्तान से आज तक पाकिस्तान में हवाबाज़ी की सब से बड़ी तनसीब है। ये पाकिस्तान इंटरनैशनल एिरलाइन का सदर दफ़्तर है। पाकिस्तान की दीगर तमाम निजी फ़िज़ाई कंपनीओ-ं का मरकज़ भी यही है जिन में एिर बलीओ- और शाहीन एिर शामिल हैं।

असफ़हानी हैंगर[संपादन]

जनाह बेन एलअक़वामी होअगाह

पी आई ए के तय्यारों की मुरम्मत ओ- देख भाल का अक्सर काम भी जनाह बेन एलअक़वामी हवाई अड्डा पर कायम असफ़हानी हैंगर पर होता है। ये बैक वक्त दो बूिनग 747 और एक बूिनग 737 को सँभालने की गुंजाइश रखता है।

15 फरवरी 2006ए को असफ़हानी हैंगर में बूिनग 777 तय्यारे की मुरम्मत का काम अंजाम दे कर पाकिस्तान में नई तारीख़ रक़म की गई।

पी आई ए अपने तय्यारों के अलावा फ़िलपाइन एिर लाइन्ज़ और तर्क एिरलाइन्ज़ के तय्यारों की भी देख भाल करती है।

फ़िज़ाई इदारे[संपादन]

माल बरदार फ़िज़ाई इदारे[संपादन]

चार्टर इदारे[संपादन]

अहम वाक़ियात[संपादन]

मुताल्लका मज़ामीन[संपादन]

पाकिस्तान इंटरनैशनल एिर लाइन्ज़


बैरूनी रवाबित[संपादन]

बाज़ाबता वीब सािट